कानून हाथ में लिया, खुद दे दी मजनुओं को सजा

0
कानून हाथ में लिया, खुद दे दी मजनुओं को सजा

पुलिस को पता ही नहीं, अब वीडियों की कर रही जांच

बदमाशों के खिलाफ पुलिस का त्वरित एक्शन नदारद ही रहता है। शायद यही वजह रही कि एक गांव के लोगों ने कानून हाथ में लिया और खुद दे दी मजनुओं को सजा । मजे की बात ये है कि इस घटना के बारे में गांव के बीचों बीच स्थापित चौकी में बैठी पुलिस को पता ही नहीं चला। वह अब वीडियों की जांच कर रही है। पता चला है कि छेड़छाड़ से पीडि़त एक लडक़ी की शिकायत पर ग्रामीणों ने दो मजनुओं को रंगे हाथों दबोचा। इसके बाद उनकी चप्पलों से जमकर धुनाई की और गांव में जुलूस भी निकाला।

गुना। जिले के म्याना थाना क्षेत्र अंर्तगत ऊमरी गांव में ग्रामीणों ने दो लडक़ों को एक लडक़ी के साथ छेडख़ानी करते रंगे हाथ पकड़ा। और फिर खुद दे दी मजनुओं को सजा, उन्हें जूतों चप्पलों की माला पहनाई। इसके बाद दोनों केा पेड़ से बांध कर जमकर धुनाई लगाई। फिर भी मन नहीं भरा तो गांव में उनका जुलूस भी निकाला गया। प्राप्त जानकारी के अनुसार ये सब गांव में ही रहने वाली एक लडक़ी की शिकायत पर किया गया। पता चला है कि ये दानों लडक़े काफी लम्बे समय से उस लडक़ी को छेड़ रहे थे।

शब्दघोष के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

तंग आकर उसने अपने माता पिता से इस बावत शिकायत कर दी। उन लोगों ने आसपास के लोगों से इस परेशानी से अवगत कराया। जब बात गांव की बेटी की आबरू पर आन बनी तो सभी एकजुट हो गए। एक सुनियोजित जाल बुना गया। लडक़ी को रोजाना की तरह आगे जाने को कहा गया। गांव वाले छुपकर उसका पीछा करते रहे। इस ग्रामीण एकता से बेखबर दोनों मजनुओं ने हमेशा की तरह लडक़ी को फिर छेड़ दिया। बस फिर क्या था, सारे ग्रामीण हाथों में जूते चप्पल लेकर आ धमके और दोनों लडक़ों को दबोच लिया।

फिर इन दोनों के साथ वो सब किया गया, जिसका उल्लेख समाचार के प्रारम्भ में किया जा चुका है। दोनों युवक चकदेवपुर के पास स्थित बरवटपुरा गांव के रहने वाले बताए जा रहे हैं। इसी दौरान किसी ने इस पूरी घटना का वीडियो बना लिया। ये अब सोशल मीडिया पर जमकर वायरल हो रहा है। नतीजतन अब पुलिस के कान खड़े हुए हैं। वो अपना इंसाफ अपने हाथ करने वाले लोगों से पूछताछ करने का मन बना रही है। पिटने वाले मजनुओं को भी हिरासत में लेकर सच्चाई का पता लगाया जाना स्वाभाविक है।

Read This As Well

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here