कोरोना की ओर से कड़ी चेतावनी, लापरवाही भारी पड़ेगी

0
कोरोना की ओर से कड़ी चेतावनी, लापरवाही भारी पड़ेगी

ग्वालियर के लॉक डाउन से सीख लेना जरूरी

सात दिनों तक कफ्र्यू, सभी सीमाएं सील

ग्वालियर चंबल संभाग को कोरोना की ओर से कड़ी चेतावनी मिल रही है। संदेश साफ है, कोविड-19 पर जारी गाईड लाईन का पालन नहीं हुआ तो लापरवाही भारी पड़ेगी। इसके लिए पूरे मध्य प्रदेश को ग्वालियर के लॉक डाउन से सीख लेना जरूरी है। लगातार बढ़ रहे संक्रमण से तंग आकर वहां सात दिनों तक कफ्र्यू के समकक्ष हालात निर्मित हो गए हैं। जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं।

ग्वालियर। कोरोना वायरस के अनियंत्रित संक्रमण के चलते ग्वालियर में मंगलवार शाम 7 बजे से एक हफ्ते के लिए लॉकडाउन की घोषणा की गई है। यह लॉकडाउन कफ्र्यू की तर्ज पर लगाया जाएगा। ताकि लोग बहुत जरूरी काम के लिए ही घरों से निकलें। सोमवार को ग्वालियर में एक दिन में सबसे ज्यादा 191 कोरोना मरीज मिले। इसके बाद लॉकडाउन लगाने का फैसला किया गया। ग्वालियर में अब तक 1200 कोरोना संक्रमण के केस सामने आ चुके हैं। सोमवार शाम जिला आपदा प्रबंधन की बैठक में एक हफ्ते का लॉकडाउन लागू करने पर सहमति बनी।

शब्दघोष के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

लॉकडाउन के दौरान किसी भी प्रकार के सामाजिक, धार्मिक और राजनैतिक समारोह आयोजित नहीं किए जा सकेंगे। भीड़ पाए जाने पर आपदा प्रबंधन अधिनियम और अन्य कानूनी प्रावधानों के तहत सख्त कार्रवाई की जाएगी। लॉकडाउन के दौरान जिले की सभी सीमाएं पूरी तरह सील रहेंगी। सीमा पर बने नाकों पर कड़ी निगरानी रहेगी। जिले के भीतर किसी को भी प्रवेश करने की अनुमति नहीं होगी। किसी को जिले से बाहर भी नहीं जाने दिया जाएगा।

Click Here – To Follow Us On Twitter

केवल आपातकालीन मेडिकल जरूरत होने पर ही जिले से बाहर और भीतर आने-जाने की अनुमति दी जाएगी। बता दें कि ग्वालियर से लगा चंबल इलाका भी तेज संक्रमण की चपेट में है। सामान्य हो चुके हालात आम नागरिकों की लापरवाही से दुबारा बिगड़े हैं। पूरे प्रदेश को ग्वालियर में बिगड़ हालातों से सीख लेने की आवश्यकता है। कोराना पर जारी गाईड लाईन का नागरिकों द्वारा कड़ाई से पालन किया जाना जरूरी है। वर्ना लॉक डाउन से हम भी ज्यादा दिनों तक नहीं बच सकते।

सर्वाधिक पढ़ी गयीं खबरें व आलेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here