विकास दुबे के गुर्गों को ग्वालियर में शरण देने वाले गिरफ्तार

0
विकास दुबे के गुर्गों को ग्वालियर में शरण देने वाले गिरफ्तार

कानपुर पुलिस हत्या कांड में अभी तक 6 के एनकाउंटर, 3 गिरफ्तार

आठ पुलिस वालों की हत्या के बाद मार दिए गए विकास दुबे के गुर्गों को ग्वालियर में शरण देने वाले गिरफ्तार किए गए हैं। इन पर आरोप हैं कि इन दोनों ने विकास के दो सहयोगियों को ग्वालियर में छुपाया था। बता दें कि कानपुर पुलिस हत्या कांड में अभी तक 6 के एनकाउंटर हो चुके हैं और 3 बदमाश गिरफ्तार किए जा चुके हैं। पुलिस से मिली जानकारी के मुताबिक साठ सत्तर लोग जांच में राडार पर हैं।

ग्वालियर। पुलिस एन्काउंटर में मारे जा चुके 8 पुलिस कर्मचारियों की हत्या करने के के आरोपी विकास दुबे के गुर्गों की धर पकड़ जोर पकड़ती जा रही है। कानपुर पुलिस विकास दुबे के सभी साथियों और उनकी मदद करने वालों के खिलाफ कार्रवाई कर रही है। ग्वालियर से भी दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है। आरोप है कि उन्होंने विकास दुबे के साथी वांटेड बदमाश शशिकांत और शिवम को ग्वालियर में छुपाया और शरण दी थी।

शब्दघोष के फेसबुक पेज से जुड़ने के लिए यहाँ क्लिक करें

पुलिस के अनुसार कानपुर कांड में वांछित शशिकांत पांडेय उर्फ सोनू और शिवम दुबे को शरण देने वाले ग्वालियर के भगत सिंह नगर निवासी ओम प्रकाश पांडेय और सागरताल निवासी अनिल पांडेय ने अपने यहां छिपाए रखा। दोनों के खिलाफ कानपुर नगर के चौबेपुर थाना में केस दर्ज है। गिरफ्तार करने वाली टीम में एसआई अजहर इसरत, हेडकांस्टेबल संजय, कांस्टेबल प्रकाश और कांस्टेबल चंदन प्रमुख हैं। फिलहाल पुलिस ने विकास दुबे सहित 6 लोगों को एनकाउंटर में मार गिराया है, वहीं 3 को गिरफ्तार किया है।

अपर पुलिस महानिदेशक कानून व्यवस्था प्रशांत कुमार ने कहा कि बिकरू कांड को अंजाम देने के मामले में 21 अभियुक्तों को नामजद किया गया था जबकि 60 से 70 अन्य अभियुक्त भी पुलिस के राडार पर हैं। एडीजी ने कहा कि 21 में से 12 अपराधियों को भी भी जल्द गिरफ्तार कर लिया जाएगा। वहीं मामले में अन्य अभियुक्तों में से 8 को गिरफ्तार किया जा चुका है। ज्ञात ही है कि उज्जैन में भी विकास को आश्रय देने के आरोप गिरफ्तारियां हो चुकी हैं।

सर्वाधिक पढ़ी गयीं खबरें व आलेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here