सायबर ठगी से बचने इंदौर क्राईम ब्रांच ने दिये टिप्स

0
मध्यप्रदेश के ग्वालियर में हैकरों ने पुलिस नगर निरीक्षकों को बनाया निशाना

लोगों को जागरूक करने हेतु चलाया जा रहा अभियान

आकाश मोदी, इंदौर।
बैंक एकाउंट ब्लॉक होने के नाम पर ठगी से बचाने के लिए इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस लोगों को जागरुक कर रही है। इसके लिए पुलिस ने एडवायजरी भी जारी की है। दरअसल इन दिन सायबर ठग कई तरह से लोगों को ठगने का प्रयास कर रहे हैं। इंदौर क्राइम ब्रांच पुलिस को जानकारी मिली है कि जिन लोगों ने पिछले दो महीनों से अपने बैंक खाते का उपयोग नहीं किया, उन्हें सायबर ठग का गिरोह शिकार बनाता है।

Read This Also – सैंपल देकर गायब हो रहे कोरोना संदिग्ध मरीज

यह गिरोह पहले फोन कर यह पूछता है कि आपने कितने दिनों से बैंक खाते का उपयोग नहीं किया, इसके बाद वह खाता बंद करने की धमकी देते हैं। इसके बाद यह गिरोह ग्राहक से उसकी व्यक्तिगत जानकारी लेने का प्रयास करते हैं। यह जानकारी लेते ही ठगी कर देते हैं। ऐसे कुछ मामले सामने आने के बाद क्राइम ब्रांच पुलिस ने लोगों को जागरुक करते हुए एडवायजरी जारी की है।

रखे यह ध्यान

क्राइम ब्रांच इंदौर के एएसपी राजेश दंडोतिया ने बताया कि लॉक डाउन के दौरान बैंक खातें से ट्रांजेक्शन नहीं होने से खाता बंद नहीं होता है। बैंक अधिकारी कभी भी ग्राहकों से उसकी व्यक्तिगत जानकारी नहीं पूछते। इसलिए यह जानकारी किसी को भी न दें।

लोगों को जागरुक करने और ठगी से बचाने के लिए क्राइम ब्रांच लगातार प्रयास कर रही है। इसी क्रम में यह एडवायजरी जारी की है।
राजेश दंडोतिया, एएसपी इंदौर
क्राईम ब्रांच

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here