सुशांत की संदिग्ध मौत की जांच उच्च स्तरीय हो

107
सुशांत की संदिग्ध मौत की जांच उच्च स्तरीय हो

केंद्र सरकार से SIT गठित करने की मांग

सुशांत की संदिग्ध मौत की उच्च स्तरीय जांच अब केंद्र सत्ता पर काबिज भाजपा के भीतर भी उठने लगी है। इस बावत बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे द्वारा ए SIT गठित किए जाने की मांग भी की जा रही है। मांग के साथ यह आरोप भी हैं कि बॉलीवुड माफियाओं से सम्बन्ध रखने वाले लोगों के चंगुल में फंस चुका है। यही वे लोग हैं जो छोटे शहरों के प्रतिभाशाली युवाओं की तरक्की को इस प्रकार बाधित कर देते हैं कि उन्हें मौत तक को गले लगा लेना पड़ रहा है।

नई दिल्ली। सशांत सिंह (Sushant Singh Rajput) के फैन और बॉलीवुड के विभिन्न कलाकारों के बाद अब भाजपा के एक सांसद (BJP Member of Parliament) ने भी इन आरोपों पर मुहर लगा दी है कि फिल्मोद्योग (Film Industries) पर माफियाओं से संबंध रखने वाले लोगों का नियंत्रण है। वे छोटे शहरों के प्रतिभाशाली अभिनेताओं (Talented Actors) को आगे नहीं बढऩे देते। छोटे से शहरों के होनहार या नये अभिनेता फिल्म उद्योग में अपनी जगह नहीं बना पाते।

यदि किसी छोटे शहर का सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) जैसा कोई व्यक्ति ऐसी कोशिश करता है तो माफिया (Mafia) से संबंध रखने वाले लोग उसे इस कदर परेशान करते हैं कि जिसका परिणाम नवोदित कलाकार (Emerging Actors) की मौत के रूप में देखने को मिलता है। बीजेपी सांसद निशिकांत दुबे (Nishikant Dube) ने केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह (Amit Shah) को पत्र लिखा है।

Click Here – To Like And Follow Our FaceBook Page

मांग है कि अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत की जांच सीबीआई, एनआईए, ईडी और आयकर विभाग (CBI, NIA, ID and Income Tax) के अधिकारियों को मिलाकर गठित किए जाने वाले विशेष जांच दल से कराई जाए। दुबे ने लिखा है कि फिल्मोद्योग के रोजमर्रा के कामकाज का नियमन करने के लिए और किसी न किसी रूप में चल रहीं अवैध गतविधियों को नियंत्रित करने के लिए एक कानूनी ढांचे की तत्काल जरूरत है।

दुबे का कहना है कि फिल्म जगत और उनके अभिनेताओं द्वारा निभाए जाने वाले किरदार लगभग सभी के जीवन पर बड़ा असर डालते हैं। इसलिए यह जरूरी है कि फिल्म उद्योग लोगों पर नकारात्मक असर नहीं छोड़े। उन्होंने दावा किया कि फिल्म उद्योग में अवैध पैसा लगाया जाता है। उन्होंने पत्र में लिखा है कि मैं आपसे इन आरोपों की जांच करने , सुशांत सिंह राजपूत की मौत की सच्चाई सामने लाने की मांग करता हूँ।

फिल्म उद्योग का माफिया के साथ का संबंधों का खुलासा करने के लिए प्रवर्तन निदेशालय, केंद्रीय जांच ब्यूरो, आयकर विभाग और राष्ट्रीय जांच एजेंसी के अधिकारियों की एक एसआईटी गठित करने का अनुरोध करता हूं। अब जबकि सभी आम और खास लोगों की ही भाषा सांसद स्तर के जन प्रतिनिधियों की जुबान से आने लगी है, तब तो यह भरोसा और ज्यादा पुख्ता हो जाता है कि बॉलीवुड मे कुछ ज्यादा भयावह और दमघोंटू वातावरण नवोदित कलाकारों की सफलता में रोड़े पैदा कर रहा है।

सर्वाधिक पढ़ी गयीं खबरें व आलेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here