पॉजिटिव पंडित से यजमान परिवार संक्रमित

564
पॉजिटिव पंडित से यजमान परिवार संक्रमित, ससुराल में कोरोना

मृत्युभोज से लौटी बहू ने ससुराल में फैलाया कोरोना

भोपाल। शादी की कथा करने वाल पॉजिटिव पंडित से यजमान परिवार संक्रमित हो गया। वहीं मृत्युभाज से लौटी एक बहू ने ससुराल में कोरोना फैला दिया। देश प्रदेश में कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं। लोगों द्वारा सामाजिक दूरी का पालन नहीं करना इसकी सबसे बड़ी वजह है। राज्य में ऐसे ही दो मामले सामने आए, जहां लोगों की लापरवाही की वजह से कई लोगों की जान पर बन आई।

पहला मामला राजधानी भोपाल के गोविंदपुरा का है। वहां शादी के बाद आयोजित कथा कराने आए पंडित जी कोरोना संक्रमित पाए गए। वहीं, दूसरा मामला बैरागढ़ का है। वहां एक मृत्यु भोज में शामिल होने गए परिवार के पांच सदस्य भी कोरोना पॉजिटिव पाए गए। एहतियातन सभी को क्वारंटीन किया गया है।

Read This Also – गुट बनाकर ताश खेलने पर दो दर्जन संक्रमित

बताया गया है कि गोविंदपुरा में एक परिवार ने शादी के बाद कथा करवाने के लिए जान-पहचान वाले पंडित जी को घर पर बुलाया गया। परिवार का मानना था कि पंडित जी तो जान-पहचान वाले हैं, इसलिए इनसे संक्रमण का कोई खतरा नहीं है। कथा करवाई गई और दोनों पक्ष के परिजन भी इसमें शामिल हुए। अगले दिन पता चला कि पंडित जी कोरोना संक्रमित थे।

इसके बाद परिवार के लोगों के नमूने लिए गए। तो यजमान परिवार संक्रमित हो गया। दूल्हा और उसके बड़े भाई की रिपोर्ट पॉजिटिव पाई गई। वहीं, दुल्हन की रिपोर्ट नेगेटिव आने के बाद उसे क्वारंटीन किया गया है। वहीं, राजधानी के बैरागढ़ में एक एक महिला को मृत्यु भोज में शामिल होना भारी पड़ गया। दरअसल, परिवार की बहू किसी परिचित के यहां मृत्युभोज में शामिल होने गई थी।

Click Here – To Like And Follow Our FaceBook Page

लौटने के दो-तीन दिन बाद उसमें संक्रमण के लक्षण दिखाई दिए। जांच करवाने पर उसके कोरोना संक्रमित होने की पुष्टि हुई। इसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों की भी जांच की गई। इसमें परिवार के चार और लोग संक्रमित पाए गए। सभी को क्वांरटीन किया गया है। अधिकारियों का कहना है कि ये मामले इस बात का सबूत हैं कि सामाजिक दूरी के नियमों का पालन कितना जरूरी है।

कहीं न कहीं परिवार में ही भीड़ एकत्रित होना भी एक खतरा है। लोगों को लगता है कि परिवार में आयोजन है तो सब सुरक्षित ही होगा। लेकिन ऐसा नहीं है। एक व्यक्ति के संक्रमित होने के बाद अन्य लोग भी वायरस की चपेट में आए हैं। इसलिए लोग ज्यादा से ज्यादा सामाजिक दूरी का पालन करें। इस घटना से सीख लेकर नागरिकों को भीड़ से बचने का हर संभव प्रयास करना ही चाहिए।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here