शादी में सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी पर लाखों की चपत

214
शादी में सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी पर लाखों की चपत

एक परिजन खोना पड़ा, एक दर्जन से ज्यादा खतरे में

एक परिवार ने शादी समारोह में सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी पर लाखों की चपत झेलनी पड़ गई। यही नहीं, इस परिवार को एक परिजन से हाथ भी धोना पड़ गया। जबकि एक दर्जन लोगों की जान अभी भी खतरे में बनी हुई है। स्थानीय जिला प्रशासन ने अपनों की जान के दुश्मन इस लापरवाह परिवार को कड़ा दंड देकर लोगों को नसीहत देने का काम किया है।

जयपुर। उल्लेखनीय है कि राजस्थान के भीलवाड़ा शहर में एक शादी समारोह के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं। विवाह समारोह के लिए अनुमति तो ली गई लेकिन उसमें तय शुदा संख्या से ज्यादा लोगों को शामिल किया गया। यहां तक कि लोगों द्वारा मास्क लगाने से परहेज भी किया गया। नतीजा ये निकला कि जिला प्रशासन को एक्शन लेना पड़ गया। इस कार्यवाही के चलते पचास से ज्यादा लोगों को क्वारंटीन करना पड़ गया।

जांच में एक दर्जन से ज्यादा लोग संक्रमित पाए गए। इन संक्रमितों में दूल्हा भी शामिल बताया जाता है। और तो और, एक व्यक्ति की जान भी चली गई। अब जिला प्रशासन ने इस लापरवाह परिवार पर छ: लाख रूपए से भी ज्यादा का जुर्माना लगाने का निर्णय लिया है। बता दें कि भीलवाड़ा शहर के भदादा मोहल्ले में घीसूलाल राठी के बेटे रिजुल की शादी 13 जून को हुई थी। परिवार वालों ने प्रशासन से मंजूरी ली तो उन्हें अधिक से अधिक 50 लोगों को बुलाने की शर्त पर अनुमति दी गई।

Click Here – To Like And Follow Our FaceBook Page

लेकिन शादी में निर्धारित संख्या से अधिक लोग शामिल हुए। जब जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को इस गैर अनुशासित शादी की सूचना मिली तो सख्ती बरती गई। सभी को जांच के दायरे में लिया गया तो सबसे पहले दूल्हा ही संक्रमित निकल आया। उसके समेत कुल सोलह लोग संक्रमित पाए गए। जबकि 58 लोगों को क्वारंटीन करना पड़ गया। यही नहीं, एक हाई रिस्क व्यक्ति की कोरोना के चलते मौत भी हो गई।

अब जिला प्रशासन एक्शन मोड में है। उसने इस सोशल डिस्टेंसिंग की अनदेखी के चलते लापरवाह परिवार पर 6 लाख 26 हजार रूपए का अर्थ दंड लगाया है। इस जुर्माने के पीछे जिला प्रशासन का तर्क है कि संक्रमितों और क्वारंटीन किए गए लोगों के इलाज पर सरकारी खजाने पर लगभग उतना खर्च तो आना ही है, जितना जुर्माना उक्त परिवार पर लगाया गया है। गलती इन लोगों ने जानबूझ कर की है, अनेक लोगों की जान खतरे में डालने का जिम्मेदार भी यही परिवार है और एक आदमी की जान जाने का कारण भी यही परिवार बना है। ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही किया जाना अन्य लोगों के बीच कड़ा संदेश पहुंचाने का काम करेगा।

सर्वाधिक पढ़ी गयीं खबरें व आलेख

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here